*विकास पथ 👉 नत्थनपुर क्षेत्र को सामुदायिक भवन (वेडिंग पॉइंट) की सौगात , 7 करोड़ से अधिक लागत के कार्यों के शिलान्यास व लोकार्पण, सरकार ने निराश्रितों को 5% आरक्षण व विकलांगों को 4% आरक्षण का कदम उठाया है*

Share

नत्थनपुर क्षेत्र को मिली बड़ी सौगात

जनपद देहरादून के अंतर्गत लोअर नत्थनपुर क्षेत्र के राजराजेश्वरी बिहार मैं माननीय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 7 करोड़ रुपए से अधिक लागत के कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया

क्षेत्र को एक बड़ी सौगात सामुदायिक भवनके रूप में मिली जोकि आधुनिक वेडिंग पॉइंट की तर्ज पर विकसित किया जाएगा। माननीय मुख्यमंत्री ने आज इस भवन का शिलान्यास किया। क्षेत्रवासी एक ऐसे सामुदायिक भवन के निर्माण हेतु विगत 7 वर्षों से प्रयासरत थे। अब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत द्वारा इस कार्य को मूर्त रूप दिए जाने का कदम उठाया गया। इससे क्षेत्रवासी गदगद हैं और मुख्यमंत्री का बारंबार साधुवाद कर रहे हैं।

इसके अतिरिक्त क्षेत्र में क्षेत्रीय विधायक जो कि स्वयं मुख्यमंत्री है के द्वारा पेयजल की किल्लत को दूर करने के लिए 3 नलकूपों के शिलान्यास / लोकार्पण भी किये गए

सामुदायिक भवन के निर्माण हेतु लगभग ₹1 करोड़ की धनराशि स्वीकृत व जारी की गई है।

शिलान्यास कार्यक्रम के अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार निरंतर प्रदेश के विकास हेतु कार्यरत है। उन्होंने बताया कि सरकार दीन दुखियों की मदद के लिए हर वक्त कदम उठाने को तत्पर है। इसी क्रम में सरकार द्वारा निराश्रित बच्चों को नौकरियों में अवसर देने के लिए 5% आरक्षण की व्यवस्था तथा दिव्यांगों को 4% आरक्षण की व्यवस्था की गई है

क्षेत्रीय विकास पर मुख्यमंत्री ने कहा सॉंग नदी पर बांध के निर्माण हेतु आवश्यक 40 हेक्टेयर जमीन में से 37 हेक्टेयर जमीन प्राप्त हो चुकी है तथा शेष आवश्यक भूमि की प्राप्ति के साथ ही 1 वर्ष में बांध का निर्माण किया जाएगा। बांध के निर्माण हेतु 3 वर्ष का समय आंकलित है जबकि हमारा प्रयास होगा कि यह कार्य त्वरित गति से 1 वर्ष में ही पूर्ण हो पाए।

देहरादून के डोईवाला क्षेत्र में सूर्यधार झील परियोजना का निर्माण कार्य समय से पूर्व कराया जा रहा है जिस पर डीपीआर लागत 56 करोड़ आंकी गई थी जबकि यह कार्य 31 करोड रुपए में पूर्ण हो रहा है। इस परियोजना से क्षेत्र के 29 गांवों को पानी मिलेगा।सरकार निर्माणाधीन योजनाओं को समय से पूर्व तथा कम लागत में पूर्ण करके समय और धन दोनों की बचत करने हेतु प्रयासरत है।

सैनिकों के लिए उनका आई कार्ड ही प्रवेश पत्रः मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री ने कहा कि सैनिक देश का गौरव हैं। राज्य सरकार सैनिकों के साथ खड़ी है। मुख्यमंत्री आवास एवं सचिवालय में सैनिकों के प्रवेश के लिए उनके आई कार्ड को मान्यता दे दी गयी है। अब कोई भी सैनिक अपना आई कार्ड दिखा कर सचिवालय में प्रवेश कर सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा परम विशिष्ट सेवा मेडल प्राप्त सैनिकों को दी जाने वाली धनराशि को 15 हजार से बढ़ाकर 2 लाख रूपये किया गया है। इसी प्रकार अति विशिष्ट सेवा मेडल की धनराशि को भी 7 हजार से बढ़ाकर 1 लाख 50 हजार किया गया है। सेना मेडल प्राप्त सैनिकों को 1 लाख रूपये दिए जाएंगे। इसी प्रकार विशिष्ट सेवा मेडल प्राप्त सैनिक को दी जाने वाली धनराशि को 3 हजार से बढ़ाकर 75 हजार किया गया है। उन्होंने कहा कि अनाथ बच्चों 5 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा। इसके साथ ही उन्हें कौशल विकास कार्यक्रमों से भी जोड़ा जाएगा।

शिलान्यास कार्यक्रम में देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा ने महानगर के विकास हेतु किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी तथा नत्थनपुर क्षेत्र के समुचित विकास हेतु आश्वस्त किया

कार्यक्रम में पूर्व दर्जा धारी मंत्री सुभाष बड़थ्वाल की राज्य विकास तथा त्रिवेंद्र सरकार पर रचित कविता का पाठ सभी के मन को भा गया

कार्यक्रम को सफल बनाने में पार्षद रवि गुसाईं, पार्षद जगदीश सेमवाल तथा नत्थनपुर विकास समिति के मेजर एसएस गुसाईं, एडवोकेट अनिल मैखुरी, प्रोफेसर एसपी भट्ट, आदि ने विशेष प्रयास किए। कार्यक्रम का संचालन क्षेत्रीय पार्षद रवि गुसाई द्वारा किया गया

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *