शिक्षा 👉 तीन दिवसीय व्याख्यान माला का पहला दिन “कश्मीर विवाद पर अंतर्राष्ट्रीय राजनीति व विदेश नीति पर रहा केंद्रित

Share

गढ़वाल विश्वविद्यालय के राजनीति विज्ञान विभाग मैं आयोजित हो रही विशेष व्याख्यान माला की श्रृंखला कश्मीर विवाद पर अंतर्राष्ट्रीय राजनीति व विदेश नीति विषय से प्रारंभ हुई

राजनीति विज्ञान विभाग में आयोजित इस तीन दिवसीय व्याख्यानमाला के शुरुआत में हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रोफेसर आर एस चौहान द्वारा दिया गया व्याख्यान

कार्यक्रम की शुरुआत राजनीति विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर एम एम सेमवाल ने प्रोफेसर चौहान के स्वागत से की और कहा कि इस तरह के व्याख्यान छात्रों को नए तरह के ज्ञान से अवगत कराते हैं । कश्मीर विवाद वर्तमान समय में सबसे बड़ा मुद्दा है जो राजनीति से लेकर आम लोगों के बीच बहस का विषय है । इसका समाधान तभी माना जाएगा जब कश्मीर में शांति स्थापित होगी

कार्यक्रम में नवनियुक्त डीन (स्कूल ऑफ़ ह्यूमैनिटीज एंड सोशल साइंसेज) प्रोफेसर सी एस सूद का भी स्वागत किया गया । उन्होंने कहा कि मुझे यह नहीं जिम्मेदारी दी गई है इसे सभी के सहयोग से पूर्ण किया जाएगा । इस तरह के व्याख्यान विश्वविद्यालय के शैक्षणिक माहौल को बढ़ावा देते हैं

मुख्य वक्ता प्रोफेसर आर एस चौहान ने कश्मीर विवाद के इतिहास व वर्तमान के सभी पक्षों की जानकारी देते हुए कहा कि इस विषय पर बहुत तरह के विचार सामने आ रहे हैं लेकिन सभी विचार कश्मीर समस्या का शांतिपूर्ण समाधान चाहते हैं ।अगर यह समस्या का समाधान होता है तो न केवल भारत बल्कि पाकिस्तान में भी विकास कार्य अधिक हो सकते हैं। दोनों देशों की अधिकतम राशि सैन्य गतिविधि में खर्च हो रही है । इस दौर में मित्रता के लिए सभी देश सामने आ रहे हैं क्योंकि सभी देश आर्थिक गतिविधियों में विकास करना चाहते हैं। कश्मीर विवाद का समाधान निकालने के लिए भारत को नए कूटनीतिक रास्ते तलाशने होंगे जिससे यह विवाद भी खत्म हो और कश्मीर के आम लोग शांति से जीवन यापन कर सकें । कश्मीर विषय पर अमेरिका ने हमेशा पाकिस्तान का साथ दिया है लेकिन इस समय वह भारत के साथ खड़ा है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में सबसे बड़ा बाजार भारत है

इस कार्यक्रम में प्रोफ़ेसर हिमांशु बौढ़ाई प्रोफेसर आरएन गैरोला डॉ गिरीश भट्ट शोध छात्र व m.a. के छात्र मौजूद रहे

कार्यक्रम का संचालन शोध छात्र गौरव डिमरी ने किया

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *